मुकदमा दर्ज कर महज अपने दायित्वों की पूर्ति में जुटी प्रतापगढ़ पुलिस

प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और पुलिस मुखिया द्वारा उत्तर प्रदेश को अपराधमुक्त करने की मंशा के विपरीत यूपी पुलिस अपने बनाये ढर्रे पर चल रही है। शायद यही वजह है कि जनपद में अपराध कारित होने के 2 सप्ताह बाद भी पुलिस अपराधियों को पकड़ने में कोई रुचि नहीं दिखा रही।


जानकारी के मुताबिक बीते 2 नवम्बर की रात राघवेंद्र प्रताप सिंह निवासी गांव भवानीपुर मिस्रोली के घर को निशाना बनाते हुए अज्ञात चोर उनके घर मेंं रखा लाखों रुपये का जेवरात चोरी कर फरार हो गए।



पीड़ित द्वारा सूचना देने व काफी प्रयासों के बाद 4 नवंबर को थाना पुलिस महज रिपोर्ट दर्ज कर अपने दायित्वों की पूर्ति करने तक ही सीमित रही। जबकि पीड़ित पक्ष द्वारा संदेह के आधार पर गांव के ही कुछ लोगों के नाम भी दिए गए थे। घटना के लगभग 3 सप्ताह बाद भी संदिग्धों से पुलिस द्वारा पूंछतांछ नहीं किये जाने के चलते उनके हौसले इतने बुलंद हैं कि आरोपितों ने पीड़ित का राह चलना दूभर कर दिया है, जो किसी भी दिन बड़ी घटना का कारण बन सकता है।


 


Popular posts