शिकायतों का निस्तारण कागज पर नही बल्कि जमीनी स्तर पर करें अधिकारी : डीएम
रायबरेली। जिलाधिकारी नेहा शर्मा की अध्यक्षता में आज डलमऊ तहसील में सर्म्पूण समाधान दिवस आयोजित हुआ। जिसमें डीएम ने अधिकारियों से कहा कि आम जन की समस्याओं को अंदेखी कतई न करें।फरियादियों की समस्या को गम्भीरता व सवेदनशीलता के साथ सुने और उसका समय से निस्तारण करें। सम्पूर्ण समाधान दिवस, थाना दिवस आदि प्रदेश सरकार की शीर्ष प्राथमिकताओं वाले कार्यक्रमों में से एक है। जिसे अधिकारी संवेदनशीलता व गम्भीरता से लेकर समस्याओं का निराकरण समयबद्ध गुणवत्तायुक्त तरीके से करें। उन्होंने कहा कि यदि किसी प्रकरण में जांच आदि की जरूरत हो तो अवश्य करें। छोटी-छोटी समस्याओं, विवादों को भी गम्भीरता से लें। समस्याओं के निस्तारण में किसी भी प्रकार की शिथिलता न बरती जाये और शिकायतों को निस्तारण पेपर पर ही नही बल्कि जमीनी स्तर पर भी किया जाये।

 

समाधान दिवस में ग्राम मथुवापुरा के एक महिला फरियादी ने बताया कि घर के पास के लोगों ने पानी निकासी को बन्द कर दिया है तथा दूसरी महिला ने कहा कि शौचालय का पैसा प्राप्त हो चुका है परन्तु दबंग किस्म के लोग शौचालय निर्माण कार्य नही होने नही दे रहे है। इस पर डीएम ने सम्बन्धित अधिकारियों को कार्यवाही करने के निर्देश दिये।ग्राम मलपुरा डलमऊ के कई फरियादियों ने शिकायत करते हुए कहा कि गांव का कोटेदार राशन नही दे रहा है। जिसपर डीएसओ को निर्देश दिये गये कि जांच करके कार्यवाही करें। डीएम ने कहा कि निस्तारण के समय शिकायतकर्ता को सूचित किया जाये और उसकी उपस्थिति में शिकायत का समाधान करायें और निस्तारण की एक प्रति शिकायतकर्ता को उपलब्ध कराये। 

इस मौके पर पुलिस अधीक्षक सुनील कुमार सिंह, मुख्य विकास अधिकारी राकेश कुमार, मुख्य चिकित्साधिकारी डा0 डीके सिंह, एसडीएम व तहसीलदार, एडी सूचना प्रमोद कुमार आदि जनपदस्तरीय अधिकारी लोग मौजूद थे।

 

रिपोर्ट-रत्नेश मिश्रा