डीएम, एसएसपी ने थाना समाधान दिवस पिलुआ, मारहरा में सुनी जन समस्याएं

एटा। शासन के निर्देशानुसार जिले के प्रत्येक थाने पर शनिवार को थाना समाधान दिवस का आयोजन किया गया। डीएम आईपी पाण्डेय, एसएसपी स्वप्निल ममगाई ने पिलुआ एवं मारहरा थाने में आयोजित थाना समाधान दिवस का औचक निरीक्षण किया। डीएम ने इस दौरान पाया कि थाना समाधान दिवस में अवैध कब्जे की शिकायतें क्षेत्रीय फरियादियों द्वारा प्रस्तुत की गई। डीएम ने अवैध कब्जे की शिकायतें अधिक मिलने पर मौजूद कानूनगो, लेखपालों को फटकार लगाते हुए चेतावनी दी कि क्षेत्र में भ्रमण कर जनता की भूमि विवाद संबंधी समस्याओं को गंभीरता से सुनें।

डीएम आईपी पाण्डेय ने मौजूद लेखपालों, कानूनगो को हिदायत दी कि जुलाई माह में अभियान चलाकर चरागाह, ग्राम समाज, तालाब आदि को कब्जामुक्त कराया जाए, सरकारी भूमि पर कब्जा होने की शिकायत आई तो लेखपाल के खिलाफ कड़ी कार्यवाही की जाएगी। डीएम ने कुसमा देवी निवासी भदुआ, अतर सिंह निवासी ककरावली, किशनवीर निवासी ककरावली द्वारा की गई अवैध कब्जे की शिकायत पर संबंधित लेखपालों को मौके पर जाकर प्रकरण का निस्तारण करने की हिदायत दी। धीरेन्द्र सिंह निवासी जोगामई द्वारा की गई पट्टे की भूमि पर लेखपाल द्वारा कब्जा न दिलाए जाने की शिकायत पर थाना प्रभारी, लेखपाल को मौके पर जाकर पैमाईश करते हुए वास्तविक पट्टाधारकों को कब्जा दिलाने के निर्देश दिए।



एसएसपी स्वप्निल ममगाई ने कहा कि थाना दिवस में प्राप्त शिकायतों का गुणवत्तापूर्ण निस्तारण किया जाए, महिला उत्पीड़न संबंधी समस्याओं को भी प्राथमिकता के आधार पर निपटाया जाए। अवैध कब्जे के प्रकरणों में जिनका नाम खतौनी या अभिलेखों में दर्ज है उसे लेखपाल की मदद से काबिज कराएं। अपराधिक एवं गुण्डा प्रवृत्ति के लोगों एवं सरकारी भूमि पर कब्जा करने वालों पर सख्त से सख्त कार्यवाही की जाए। इस दौरान एडीएम प्रशासन केपी सिंह, एएसपी संजय कुमार आदि ने भी थाना समाधान दिवस पिलुआ में पहुंचकर जनसमस्याओं के निस्तारण पर जोर दिया।


रिपोर्ट-अनंत मिश्रा