CM योगी के आदेश का नहीं हो रहा पालन, सुबह साढ़े दस बजे तक लगे रहे ऑफिसों में तालें

उत्तर प्रदेश के जिला फिरोजाबाद में सूबे के मुखिया योगी आदित्यनाथ के आदेशों का कोई भी असर देखने को नहीं मिलता। जी हां, साफ तौर पर जिस तरह से सूबे के मुखिया ने यह आदेश किया था कि सरकारी कर्मचारी समय से अपने अपने दफ्तर में बैठेंगे और जनता की समस्याएं सुन उनका समाधान कराएंगे, लेकिन साहब नगर निगम को कोई फर्क नहीं पड़ता किसी का भी आदेश हो साफ तौर पर अगर कहे तो मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के आदेशों की धज्जियां उड़ाते हुए उनके आदेशों को हवा में उड़ाते हुए नगर निगम के नगर आयुक्त, महापौर अपर नगर आयुक्त सहित नगर निगम के सभी अधिकारी कर्मचारी उड़ाते हुए नजर आ रहे हैं क्योंकि आज जब हमारी टीम सुबह ठीक 10:30 बजे नगर निगम पहुंची तो जो नजारा था वह बेहद चौंकाने वाला था।



महापौर नूतन राठौर के कक्ष में ताला लगा हुआ था, वही एकाउंट्स डिपार्टमेंट ईओ ऑफिस सहित नगर निगम के लगभग सभी दफ्तर जिनमें कुर्सियां खाली मिली, कहीं भी किसी दफ्तर में कोई भी कर्मचारी अधिकारी नहीं दिखाई दिया, दिखाई दिए तो कुछ जनता के लोग जो कि अपनी समस्या को लेकर आए थे भला उनकी समस्याएं सुनता कौन? क्योंकि नगर निगम में ना कोई अधिकारी है ना कर्मचारी साफ तौर पर कहे तो मुख्यमंत्री के आदेशों को हवा में उड़ाते हुए उन्हें ठेंगा दिखाते नजर आ रहे हैं। नगर निगम के अधिकारी व कर्मचारी जब खबर को बनाने पहुंचे तब पूरे नगर निगम में नगर आयुक्त के असिस्टेंट मनीष ही बैठे मिले बाकी सभी नदारद थे ऐसे में भला अब नगर निगम के लिए क्या कहें समझ नहीं आता।


-रिपोर्ट फरमान बबलू