यौन शोषण के आरोपी एसोसिएट प्रोफेसर ने अदालत में किया सरेंडर


बल्लभगढ़ । फरीदाबाद के राजकीय कॉलेज के एसोसिएट प्रोफेसर सी.एम वशिष्ठ ने छात्रा पर यौन शोषण का दबाव डालने के मामले में शुक्रवार को न्यायाधीश साक्षी सैनी की अदालत में आत्मसमर्पण कर दिया। अदालत की नोटिस पर महिला थाना पुलिस अदालत पहुंची और आरोपी की रिमांड मांगी। अदालत ने देर शाम तीन दिन की रिमांड मंजूर की।


आरोपी एसोसिएट प्रोफेसर मुकदमा दर्ज होने के बाद से ही फरार चल रहा था। उसने गिरफ्तारी से बचने के लिए अग्रिम जमानत याचिका भी लगाई थी। गुरुवार को जमानत याचिका को अदालत ने खारिज कर दी थी। इसके बाद वकील संजीव चौधरी ने उसे आत्मसमर्पण की सलाह दी। इसके बाद उसने अदालत में आत्मसमर्पण किया।


राजकीय कॉलेज की छात्रा ने एसोसिएट प्रोफेसर सीएम वशिष्ठ, लैब अटेंडेंट जगदेव और चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी विक्रम पर छात्रा पर शारीरिक संबंध बनाने के लिए दबाव डालने का आरोप लगाया था। छात्रा की शिकायत पर सेक्टर-16 महिला थाना पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर लिया। लैब अटेंडेंट जगदेव और कर्मचारी विक्रम को पुलिस पहले ही गिरफ्तार कर जेल भेज चुकी है।