संदिग्ध परिस्थितियों में युवती ने फांसी लगाकर दी जान
डीह/रायबरेली। नसीराबाद थाना क्षेत्र के भैनापुर मजरे भुवालपुर सिसनी गांव में एक 18 वर्षीय अविवाहित युवती ने संदिग्ध परिस्थितियों में फाँसी लगाकर आत्महत्या कर ली।घटना शुक्रवार की रात लगभग 11 बजे की बताई जा रही है। बतातें चलें कि भैनापुर निवासिनी आयत्री शुक्ला का अपने पति के साथ सम्बन्ध ठीक न होने के कारण वह अपने बच्चों के साथ मायके में रहती है और गाँव के ही प्राथमिक विद्यालय में शिक्षामित्र के पद पर कार्यरत है।आयत्री की तीन सन्तानों में अमित (22) तथा अनुराग (16) है।जबकि मृतका दीपांजलि दूसरे नम्बर की संतान थी।शाम को भोजन के बाद दीपांजलि की मां,भाई और नानी एक कमरे मे तथा दीपांजलि पास के ही दूसरे कमरे में सोने चली गयी। इसी दौरान दीपांजलि ने छत में लगे पंखे के नीचे कुर्सी रखकर अपने दुपट्टे का फंदा गले में डालकर पंखे से लटक कर जीवनलीला समाप्त कर ली। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम  के लिये भेज दिया है।दीपांजलि ने पिछले साल ही निजी कालेज से इण्टरमीडिएट की परीक्षा पास की थी। परिवार की इकलौती बहन होने के कारण परिजनों का रो रो कर बुरा हाल है।

 

मोबाइल डिटेल के आधार पर मामला प्रेम प्रसंग का बताया जा रहा 

 

पुलिस द्वारा मृतका के मोबाइल की जांच में प्रेम प्रसंग का मामला उजागर हो रहा। सूत्रों व पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार मृतका दीपांजलि शुक्ला का किसी करीबी रिस्तेदार से अफेयर था।जिससे वो फोन से बराबर बात करती थी।घटना के पूर्व भी वीडियो कॉल से बात हुयी थी।वहीं मरने से पूर्व मृतका ने युवक को मैसेज भी किया था।जिसमें लिखा था।मेरे बाद शायद मुझसे भी खूबसूरत बीबी तुमको मिले?

 

थानेदार धीरेन्द्र कुमार यादव ने बताया कि शुरूवाती जांच में मामला प्रेम प्रसंग का लगता है। पीएम रिपोर्ट आने के बाद ही कुछ कहा जा सकता है।परिजन अगर तहरीर देते हैं तो जांच कर आवाश्यक कार्यवाही की जायेगी।

 

रिपोर्ट-रत्नेश मिश्रा