साजिश के तहत रद्द की जा रही हैं परीक्षाएं : Akhilesh Yadav


लखनऊ। समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा है कि भाजपा सरकार की संवेदनहीनता के फलस्वरूप उत्तर प्रदेश के नौजवानों का भविष्य खतरे में है। इसके कार्यकाल में नौकरियों में भर्ती बंद हो गई है। एक साजिश के तहत नौकरियों के विज्ञापन देकर पेपरलीक के बहाने परीक्षाएं रद्द कर दी जाती हैं। भाजपा शासन में हजारों नौजवान हताशा और कुंठा में अपनी जान गंवा चुके हैं। नौजवानों ने अगर कभी अपने हक की मांग की तो उनपर पुलिस की लाठियां पड़ने लगती हैं।


गूंगी-बहरी सरकार उनकी बात सुनने


आज भाजपा राज की पुलिस ने पुलिस में भर्ती की मांग कर रहे नौजवानों पर क्रूरता से लाठीचार्ज किया जिसमें दर्जन भर से ज्यादा घायल हुए हैं। कई प्रदर्शनकारी बेहोश हो गए। सरकारी उत्पीड़न से परेशान 10 नौजवानों ने जहर खा लिया। आज भी हजारों की संख्या में पुलिस भर्ती अभ्यर्थी इस भीषण गर्मी में लू के थपेड़े खाते हुए इको गार्डेन में जमे हैं। इन नौजवानों का दोष यही है कि वे सन 2013 की पुलिस भर्ती की परीक्षा और मेडिकल के बाद अपनी नियुक्तियां किए जाने की मांग कर रहे है। वे कई बार पहले भी राजधानी लखनऊ में आकर प्रदर्शन कर चुके हैं, किन्तु यह गूंगी-बहरी सरकार उनकी बात सुनने और उन्हें न्याय देने के लिए तैयार नहीं है।


समाजवादी सरकार में हजारों नौजवानों की


समाजवादी सरकार में हजारों नौजवानों की भर्तियां हुई थी। लखनऊ में आईटी हब, एचसीएल, अमूल प्लांट आदि के माध्यम से बड़ी संख्या में नौकरियां देने के लिए कौशल प्रशिक्षण की भी व्यवस्था की गई थी। भाजपा सरकार ने आते ही इन सब योजनाओं पर रोक लगा दी। समाजवादी सरकार में शिक्षामित्रों, उर्दू उलेमाओं, आशा बहुओं, रसोइयां आदि के अलावा आंगनबाड़ी, पुलिस-पीएसी में भारी संख्या में भर्तियां की गई थी। उ0प्र0 लोकसेवा आयोग के माध्यम से भर्तियां शुरू की गई थी। सैकड़ों शिक्षामित्रों ने अपनी जान दे दी। वे अभी भी सड़कों पर आवाज उठा रहे हैं। जब कभी कोई अपनी न्यायोचित मांग लेकर राजधानी आया तो भाजपा सरकार द्वारा उन्हें लाठियों से पीटने के बाद कई फर्जी केसो में भी फंसाने का काम किया गया है। यह लोकतंत्र को आहत करने वाली कार्यवाही है।


भाजपा युवाशक्ति का वोटबैंक की तरह

भाजपा की अमानवीय नीतियों के चलते प्रदेश के नौजवानों को रोजगार तो मिलने से रहा उनके भविष्य को भी बिगाड़ने का काम चल रहा है। नौकरियों में आरक्षण की इसीलिए अनदेखी की जा रही है। भाजपा युवाशक्ति का वोटबैंक की तरह इस्तेमाल तो करती है, उसे उसके हक और सम्मान देना नहीं चाहती है। भाजपा सरकारें देश के भविष्य को अंधकारमय बनाने का जो पाप कर रही है, जनता के प्रतिकार का भाजपा को परिणाम भुगतना पड़ेगा।