महाराणा प्रताप ने सबका साथ सबका विकास की अवधारणा को जमीन पर उतारा : डा. हरमेश चौहान

लखनऊ। महापुरुष स्मृति समिति के तत्वावधान में आज शुक्रवार 7 जून को राष्ट्रवीर महाराणा प्रताप के 480वें जन्मदिवस पर लखनऊ के हुसैनगंज चौराहे पर स्थापित उनकी प्रतिमा पर माल्यार्पण और पुष्पार्चन किया गया। इस अवसर पर राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के प्रांत सह संघ चालक एवं सी-मैप के पूर्व वैज्ञानिक डा. हरमेश सिंह चौहान ने कहा कि राष्ट्रवीर महाराणा प्रताप शायद पहले एसे व्यक्ति थे जिन्होंने सबका साथ, सबका विकास और सबका विश्वास की अवधारणा पर कार्य करते हुए उसे जमीन पर उतारा।


ताकतवर राजा होने के बाद भी वर्ष 1576 में हल्दी घाटी के युद्ध में जिस तरह से उन्होंने तीरंदाजी एवं छद्म युद्ध में निपुण कोल और भीलों को साथ लेकर मुगलों के विरुद्ध युद्ध किया, मुगलों से युद्ध करते हुए आर्थिक रूप से समृद्ध सहयोगी भामाशाह का भी सहयोग लिया और मुगल सिपाहियों को अपनी सेना की टुकड़ी में स्थान देकर आतताइयों के विरुद्ध लड़ाई लड़ी। इससे पता चलता है कि राष्ट्रवीर महाराणा प्रताप सबका साथ सबका विकास और सबका विश्वास जैसे विचार को मूर्तरूप दिया था।


डा. चौहान ने कहा कि महाराणा पराक्रमी राजा थे, यदि वह चाहते तो देश के अन्य राजाओं का सहयोग ले सकते थे।लेकिन उन्होंने अपने राज्य के निवासियों पर विश्वास करते हुए उन्हें एकसाथ लिया और सभी को संगठित करते हुए मुगलों के विरुद्ध ताल ठोंक दिया।


ज्ञात हो कि 480 वर्ष पूर्व चैत्र शुक्ल तृतीया को महाराणा प्रताप का जन्म हुआ था, जो कैलेंडर वर्ष के अनुसार 6 जून दिन गुरुवार को था। इसी उपलक्ष्य में आज शुक्रवार 7 जून को माल्यार्पण और पुष्पार्चन कर महाराणा का जन्मदिवस मनाया गया। माल्यार्पण एवं पुष्पार्चन के मौके पर आयोजित सभा में उपस्थित स्वयंसेवकों ने राष्ट्रवीर महारणा प्रताप के जीवन और उनकी जीवनशैली पर कई महत्वपूर्ण जानकारियां उपलब्ध कराई।


इस अवसर पर राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सह प्रांत संघ चालक एवं सी-मैप के वैज्ञानिक रहे डा. हरमेश सिंह चौहान, आर्किटेक्ट डा. अशोक सिंह, सुनील दिवाकर, एडवोकेट सौरभ कृष्ण चौहान, एडवोकेट दिनेश प्रताप सिंह, एडवोकेट पुष्कर सिंह सनी, एडवोकेट अनुरक्त सिंह, सामाजिक कार्यकर्ता अश्विनी जायसवाल, समाजिक कार्यकर्ता आकाश मिश्र, हमराह संगठन के अध्यक्ष अजीत सिंह, धनंजय सिंह ने प्रमुख रूप से अपने विचार रखे। अंत में समिति के अध्यक्ष एवं कार्यक्रम के संयोजक भारत सिंह ने सभी आगंतुक बंधुओं का आभार व्यक्त किया।