किर्गिस्तान पहुंचे PM Modi, बिश्केक एयरपोर्ट पर हुआ भव्य स्वागत

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज 13 और 14 जून को किर्गिस्तान की राजधानी बिश्केक में होने वाले शंघाई सहयोग संगठन एससीओ समिट में हिस्सा लेने के लिए किर्गिस्तान पहुंच गए हैं। इस बैठक में वैश्विक सुरक्षा और आर्थिक सहयोग संबंधी मुद्दों को लेकर बात होगी। साथ ही साथ ये यात्रा मध्य एशियाई देशों के साथ भारत के संबंधों को मजबूती प्रदान करेगा। माना जा रहा है कि इस दौरान पीएम नरेंद्र मोदी की पाकिस्तान को छोड़कर कई देशों के राष्ट्राध्यक्षों के साथ द्विपक्षीय बातचीत होगी।


PM Modi अपनी यात्रा के दौरान किर्गिस्तान के राष्ट्रपति सूरोनबे जीनबेकोव के साथ भी द्विपक्षीय बातीच करेंगे। बिश्केक रवाना होने से पहले पीएम मोदी ने कहा कि किर्गिज गणराज्य में होने वाले एससीओ समिट में वैश्विक सुरक्षा और आर्थिक सहयोग पर विशेष जोर रहेगा। साथ ही साथ उन्होंने ये भी कहा कि एससीओ समिट की वजह से भारत और एशियाई देशों के बीच संबंध मजबूत होगें।


साल 1996 में रूस, चीन, ताजिकिस्तान, कजाकस्तान और किर्गिस्तान जैसे देशों ने आपसी तालमेल और सहयोग के लिए एक संगठन बनाया था जिसे उस वक्त शंघाई-5 के नाम से जाना जाता था। सितंबर 2014 में भारत ने शंघाई सहयोग संगठन की सदस्यता के लिए आवेदन किया था। साल 2015 में रूस के उफा में भारत को शंघाई सहयोग संगठन के सदस्य के तौर पर दर्जा मिलने का ऐलान हुआ था।