गोएयर के बेड़े में शामिल हुआ 50वां एयरक्रॉफ्ट


• 2 साल से भी कम समय में एयरक्रॉफ्ट फ्लीट हुआ दोगुना


लखनऊ। गोएयर ने अपने बेड़े में 50वें एयरक्रॉफ्ट को शामिल किया है। इस नई उपलब्धि के साथ गोएयर ने दो साल से भी कम समय में अपने बेड़े को दोगुना कर लिया। इसके बाद गोएयर ने भारत की सबसे तेजी से विकसित हो रही एयरलाइन का खिताब हासिल कर लिया। गोएयर द्वारा रोजाना 270 उड़ानों का परिचालन किया जाता है, जो 24 घरेलू एवं 4 अंतरराष्‍ट्रीय गंतव्‍यों को जोड़ती हैं।


वाडिया ग्रुप की विमानन कंपनी GoAir का परिचालन एक लो कॉस्‍ट कैरियर मॉडल के रूप में किया जाता है। जिसके लिये कॉस्‍ट लीडरशिप, परिचालनीय दक्षता और विश्‍वसनीयता की जरूरत होती है। गोएयर द्वारा एयरबस A320 एयरक्रॉफ्ट का परिचालन किया जाता है और यह अहमदाबाद, बागडोगरा, बेंगलुरू, भुबनेश्‍वर, चंडीगढ़, चेन्‍नई, दिल्‍ली, गोवा, गुवाहाटी, हैदराबाद, जयपुर, जम्‍मू, कोच्चि, कोलकाता, कन्‍नूर, लेह, लखनऊ, मुंबई, नागपुर, पटना, पोर्टब्‍लेयर, पुणे, रांची और श्रीनगर में उड़ानें भरती है।


मौजूदा समय में गोएयर अंतरराष्‍ट्रीय गंतव्‍यों के लिये भी उड़ान भरती है, जिनमें फुकेट, माले, मस्‍कट और अबू धाबी शामिल हैं। गोएयर ने अपनी शुरूआत से अब तक 72 मिलियन यात्रियों को उड़ानें भरवाई हैं और अगले दो वर्षों में एयरलाइन 100 मिलियन यात्रियों के जादुई आंकड़े को छूने वाली है।



50वें एयरक्रॉफ्ट को शामिल किये जाने पर प्रतिक्रिया व्‍यक्‍त करते हुए जेह वाडिया (मैनेजिंग डायरेक्‍टर, गोएयर) ने कहा, ''इस नई उपलब्धि से हमें काफी संतुष्टि हो रही है और इससे हमारे मन में उपलब्धि की भावना जगी है। इसके साथ ही, इससे हमें यह भी पता चला है कि हमें अभी बेहद लंबा रास्‍ता तय करना है। हम भविष्‍य में औसतन हर महीने एक एयरक्रॉफ्ट को शामिल करेंगे और इसका मतलब है कि ग्राहकों के लिये ज्‍यादा उड़ानों, ज्‍यादा गंतव्‍यों और अधिक स्‍मार्ट विकल्‍पों को रखा जायेगा। हम जल्‍द ही हमारे नेटवर्क में चार नये अंतरराष्‍ट्रीय गंतव्‍यों को शामिल करेंगे।''


श्री वाडिया ने आगे कहा, ''वर्ष 2016 में, हमने एक आक्रामक व्‍यावसायिक रणनीति पर नजर डाली और भारत की आर्थिक वृद्धि एवं साथ ही एविएशन सेक्‍टर में गोएयर द्वारा निभाई जाने वाली महत्‍वपूर्ण भूमिका को निर्धारित करने की जिम्‍मेदारी उठाई। उस साल हमने अपने एयरबस A320 एयरक्रॉफ्ट को दोगुना कर 144 किया। इसका उद्देश्‍य वृद्धि को बढ़ावा देना और साथ ही इसे लाभदायक बनाये रखना भी है। वे लक्ष्‍य व्यावसायिक परिप्रेक्ष्‍य से आज भी हमारे मार्गदर्शक सिद्धांत बने हुये हैं। एक ग्राहक के नजरिये से गोएयर द्वारा इसके बिजनेस मॉडल को 'पंक्‍चुऐलिटी, अफोर्डिबिलिटी और कन्‍वीनिएंस' के बुनियादी थ्री-टियर प्रिंसिपल पर लागू किया जाता है। इन सिद्धांतों से हमारे ग्राहकों का भरोसा हासिल करने में मदद मिली है।''