बिगड़े कानून व्यवस्था को सुधारने की मांग को लेकर राज्यपाल से मिले सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव


लखनऊ। समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने आज उत्तर प्रदेश के राज्यपाल राम नाईक से भेंटकर उन्हें उत्तर प्रदेश की बिगड़ती कानून-व्यवस्था पर पत्र दिया और राज्य की बेपटरी कानून व्यवस्था को दुरुस्त करने की मांग किया। इस दौरान उनके साथ पूर्व स्वास्थ्य मंत्री तथा नेता प्रतिपक्ष विधान परिषद अहमद हसन भी मौजूद थे।    


अखिलेश यादव ने मीडिया से कहा कि समाजवादी पार्टी कार्यकर्ताओं की हत्याएं हो रही है। बच्चियों के साथ दुष्कर्म हो रहा है। जिस समय मुख्यमंत्री जी यहां बैठक कर रहे होते हैं, अपराधी बेखौफ अपराध कर जाते हैं। उन्होंने कहा कि समाजवादी सरकार के कार्यकाल में कानून व्यवस्था पर राज्यपाल जी की चिट्ठी आती थी कि यादव अधिकारी सब जगह तैनात हैं, आज तो किसी जिले मेें एक भी डीएम-एसपी यादव नही है। अधिवक्ता के चैम्बर में हत्या की घटना कैसे हो गई है?     


श्री यादव ने कहा कि हमने राज्यपाल महोदय से कहा कि वे पहले भी सरकार को जगाने का काम करते रहे हैं, तो अब इस सरकार को भी जगाने का काम करें, क्योंकि प्रदेश में कानून नाम की चीज नहीं है, जंगलराज की स्थिति है। समाजवादी पार्टी के नेताओं और कार्यकर्ताओं का प्रदेश में उत्पीड़न हो रहा है। उन्होंने कहा कि सांसद और समाजवादी नेता मो0 आजम खान पर बदले की भावना से कार्यवाही हो रही है। समाजवादी पार्टी के नेताओं और पार्टी की आवाज को दबाने की कोशिश की जा रही है। यह लोकतांत्रिक व्यवस्था के विरूद्ध है। सरकार का दायित्व है कि संविधान के अनुसार आचरण करें।