भारत में बढ़ रही है अमीरों की संख्या


नई दिल्ली। मार्च 2019 को समाप्त वित्त वर्ष में देश की प्रति व्यक्ति आय 10 प्रतिशत बढ़कर 10,534 रुपये महीना पहुंच जाने का अनुमान है। शुक्रवार को सरकार के राष्ट्रीय आय पर जारी आंकड़ों में यह जानकारी दी गई है। इससे पहले वित्त वर्ष 2017-18 में मासिक प्रति व्यक्ति आय 9,580 रुपये थी। प्रति व्यक्ति आय में वृद्धि देश की समृद्धि का स्वाभाविक संकेतक है।


सांख्यिकी और कार्यक्रम क्रियान्वयन मंत्रालय द्वारा शुक्रवार को जारी वित्त वर्ष 2018-19 की सालाना राष्ट्रीय आय और जीडीपी आंकड़े के अनुसार, ''वर्तमान मूल्य पर प्रति व्यक्ति आय 2018-19 में 10 प्रतिशत बढ़कर 1,26,406 रुपये (10,533.83 रुपये मासिक) पहुंच जाने का अनुमान है. वर्ष 2017-18 में यह आंकड़ा 1,14,958 रुपये वार्षिक(9,579.83 रुपये मासिक) था।''


वर्तमान मूल्य पर सकल राष्ट्रीय आय (जीएनआई) 2018-19 में 11.3 प्रतिशत बढ़कर 188.17 लाख करोड़ रुपये रहने का अनुमान है जो इससे पूर्व वित्त वर्ष में 169.10 लाख करोड़ रुपये थी। इससे पहले सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) वृद्धि 2014-15 के बाद सबसे कम है। इससे पहले 2013-14 में वृद्धि दर सबसे कम 6.4 प्रतिशत रही थी। पूरे वित्त वर्ष की यदि बात की जाये तो 2018-19 में आर्थिक वृद्धि दर 6.8 प्रतिशत रही जो इससे पूर्व वित्त वर्ष में 7.2 प्रतिशत थी।