अवैध शराब के कारोबार के लिए थाना प्रभारी और बीट इंचार्ज होंगे जिम्मेदार : अमृत त्रिपाठी

शाहजहांपुर। जिलाधिकारी अमृत त्रिपाठी शाहजहांपुर व पुलिस अधीक्षक डॉ. एसके चिनप्पा ने सभी थाना प्रभारियों को ताकीद करते हुए स्पष्ट किया कि यदि उनके इलाकों में अवैध शराब का कारोबार पाया गया तो इंस्पेक्टर और बीट इंचार्ज के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी। यहां देखने वाली बात यह है कि जिलाधिकरी और एसपी के सख्त निर्देशों के बावजूद भी दर्जनों गांव में कच्ची शराब का कारोबार फल-फूल रहा है। जिसमें स्थानीय थाना पुलिस और आबकारी कर्मियों का संरक्षण कारोबार में लिप्त लोगों को प्राप्त है।


गौरतलब हो कि,बाराबंकी और सीतापुर में जहरीली शराब पीने से दो दर्जन से अधिक लोगों की मौत के बाद जागी सरकार ने बड़ी कार्रवाई करते हुए आबकारी व पुलिस विभाग के कई अधिकारियों को निलंबित करते हुए जिम्मेदारों को इस तरह के कारोबार पर अंकुश लगाने के निर्देश दिए थे। शराब कांड के बाद चारों तरफ से घिरी प्रदेश की भाजपा सरकार के मुखिया सीएम योगी आदित्यनाथ ने सख्त रुख अपनाते हुए सभी जनपदों के जिलाधिकारियों, पुलिस अधीक्षकों और आबकारी अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा था कि जहां कहीं भी अवैध शराब का कारोबार पाया जाएगा उसके लिए उक्त सभी को जिम्मेदार मानते हुए उनके खिलाफ कड़ी कार्यवाई की जाएगी।


 रिपोर्ट-आरडी गुप्ता