आज लड़ाई साइकिल और फरारी के बीच : अखिलेश

लखनऊ। समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने आज आजमगढ़ पहुंचकर अपने मतदाताओं का और पार्टी के एक-एक कार्यकर्ता का धन्यवाद दिया। उन्होने कहा कि आजमगढ़ से हमारा गहरा संबंध है और इस समाजवादी रिश्ते को वे कभी भी टूटने नही देंगे।   


आईटीआई ग्राउंड में आयोजित जनसभा में श्री यादव ने कहा कि आजमगढ़ ऐतिहासिक धरती है। इस जनपद ने शिबली नोमानी और राहुल सांकृृत्यायन जैसे विख्यात लोगों को पैदा किया। उन्होने कहा जब मैं राजनीति में नहीं था तब भी मैं यहां आया था। आजमगढ़ ने जो एहसान किया है, वो इतिहास में दर्ज होगा। आजमगढ़ अब मेरे नाम से जुड़ गया है।


अखिलेश यादव ने भावुक होते हुए कहा कि संसद में जब हम बोलेगें तो इटावा और कन्नौज के नाम से नहीं जाना जाऊंगा बल्कि आजमगढ़ के सांसद के रूप में मेरा नाम लिखा जाएगा। उन्होने अपनी जीत का श्रेय समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ताओं और स्थानीय जनता को दिया तथा उनका बार-बार आभार व्यक्त किया। उन्होने कहा कि मैने चुनाव में जीत का मिला प्रमाण-पत्र छुपा दिया था, उसे घर में भी नहीं दिखाया। तय किया कि इसे जनता के सामने ही दिखाऊंगा, यही सम्मान है। श्री यादव ने कानून व्यवस्था की बदहाली का जिक्र करते हुए कहा कि अपराधी बेखौफ है। राज्य में अपराधों की बाढ़ आ गई है। जौनपुर के समाजवादी को गोली से छलनी कर दिया गया। विपक्ष पर खासकर समाजवादी कार्यकर्ताओं को निशाना बनाया जा रहा है। हमें संघर्ष का रास्ता अपनाकर अन्याय करने वालो को सबक सिखाना पडे़गा।


श्री यादव ने कहा कि आज लड़ाई साइकिल और फरारी के बीच हो रही है। फरारी सबसे तेज भागने वाली गाड़ी है। टीवी और मोबाइल से हो रहे घनघोर प्रचार ने लोगों के दिलोदिमाग पर असर डाला। उन्होने कहा कि यह दूसरे तरीके की लड़ाई है, जिसे हमारे लोगों को समझना होगा। उन्होंने कहा कि 45 वर्षो में इतनी बेरोजगारी कभी नहीं थी। अर्थव्यवस्था नीचे जा रही है। पूर्वाचंल एक्सप्रेस को सन् 2020 तक बन जाने की बात झूठ है। भाजपा ने सिर्फ एक काम किया कि इससे समाजवादी शब्द हटा दिया। इसमें भी बलिया नहीं जुड़ा है। लोकसेवा आयोग में पेपरलीक का जिक्र करते हुए कहा वहां लूट मची है। पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने आजमगढ़ के लोगों से निवेदन किया कि आपको 2022 और 2024 का संकल्प लेना है। भाजपा के छलावे में नहीं आना है। इनकी राजनीति झूठ और नफरत पर टिकी है। भाजपा ध्यान बंटाने में माहिर है। हमारे आपके पास यह क्षमता नहीं है। इनसे सावधान रहना होगा। समाजवादी एक होकर इनका मुकाबला करेगें।