पोलियो को लेकर सात स्कूल सील


पाकिस्तान के खैबर पख्तूनख्वा प्रांत में पोलियो Polio अभियान के खिलाफ दुष्प्रचार करने पर सात प्राइवेट स्कूलों को सील कर दिया गया है। पाकिस्तान विश्व के उन तीन देशों में से एक है जो अभी तक पोलियो से पूरी तरह मुक्त नहीं हो पाए हैं। पोलियो प्रभावित दो अन्य देशों में अफगानिस्तान और नाइजीरिया हैं। पाकिस्तान में पोलियो उन्मूलन के लिए चलाए जा रहे अभियान को सबसे ज्यादा झटका आतंकी हमलों और अफवाहों से हुआ है।


Polio अभियान में जुटी


हाल के वर्षों में पोलियो Polio अभियान में जुटी कई टीमों को आतंकियों ने निशाना बनाया है। इसमें पोलियो अभियान से जुड़े कई लोग मारे गए है। इन इलाकों में यह भी अफवाह फैलाई जा रही है कि पोलियो ड्रॉप नपुंसकता का कारण बन रहा है। पोलियो उन्मूलन कार्यक्रम पर प्रधानमंत्री इमरान खान के सलाहकार बाबर बिन अट्टा ने बुधवार को कहा, खैबर पख्तूनख्वा की सरकार ने इन स्कूलों के प्रबंधन को पोलियो टीकाकरण के खिलाफ नफरत फैलाने का दोषी पाया है। उन्होंने बेकसूर अभिभावकों को हिसा के लिए उकसाया। नतीजन पोलियो टीमों पर हमले हुए।


गत 22 अप्रैल को पेशावर में प्रदर्शनकारियों ने एक स्वास्थ्य केंद्र को फूंक दिया था। तब यह अफवाह फैली थी कि पोलियो ड्रॉप के चलते कई बच्चे बीमार पड़ गए हैं। हिसा की खबरें आने के बाद पाकिस्तान में पोलियो अभियान रोकना पड़ा।
पाकिस्तान में दिसंबर, 2012 से पोलियो रोधी अभियान में जुटी टीमों पर हुए हमलों में अब तक 68 लोग मारे जा चुके हैं।