गाइड समाज कल्याण संस्थान की लखनऊ में #MenToo पहल

लखनऊ। वर्तमान भारतीय समाज के भेदभाव पूर्ण माहौल में एवं एकतरफा दृष्टि से बनाये गये महिला कानूनों की आड़ में लगभग रोज ही सैंकडों पुरुषों के साथ किये जा रहे शोषण के खिलाफ आवाज उठाने में #MenToo की देश व्यापी मुहिम का आज ''गाइड समाज कल्याण संस्थान'' द्वारा राजधानी लखनऊ से आगाज किया जा रहा है।


किसी भी महिला द्वारा किसी भी पुरुष पर कैसा भी आरोप लगाने भर से ही देश में मीडिया ट्रायल शुरु हो जाता है। यह भी नहीं सोचा जाता कि यदि उस महिला द्वारा किसी व्यक्तिगत स्वार्थ की भावना से प्रेरित होकर उस पुरुष पर पूर्णतः झूठे आरोप लगाये गये हो तो उस पुरुष के उस सार्वजनिक व सामाजिक अपमान का क्या दुष्परिणाम उसके भविष्य पर व उसके परिवार पर पडता है। क्या असर पडता है उसके बच्चों पर ? वर्तमान में मा0 सर्वोच्च न्यायालय के सर्वोच्च न्यायाधीश पर लगाये गये झूठे आरोप इसका एक प्रत्यक्ष उदाहरण है।बच्चों के यौन शोषण जैसे गम्भीर मामलों में भी उन्हें पुरुष की संज्ञा देकर किनारे कर दिया जाता है एवं सिर्फ बच्चियों पर हुये यौन शोषण के मामलों पर ही ध्यान दिया जाता है। समाज की मानसिकता इतनी विकृत हो चुकी है कि एक पुरुष पर आरोप लगते ही उसे पृथम-दृष्टया दोषी मान लिया जाता है और इतना भी इंतजार नहीं किया जाता कि मामले की सच्चाई क्या है क्योंकि जब अपराध एक Gender Neutral शब्द है तो सजा भी Gender Neutral होनी चाहिये।


एक सवालः "क्या महिलाओं के लिये बनाये जा रहे एकतरफा लिंगभेदी कानून, पुरुषों के सम्मान से जीने के हक को खत्म करते जा रहे है?"


लिंगभेदी कानूनों में यदि शीघ्र ही सकारात्मक संशोधन नहीं किया गया एवं दुष्ट मानसिकता वाली महिलाओं के लिये यदि कडे दण्ड का प्राविधान नहीं किया गया तो यह पूरे समाज के लिये ही नहीं अपितु सम्पूर्ण भारतवर्ष की आने वाली पीढियों के लिये एक ऐसे भविष्य की रचना कर देगा जिसके अन्धकारमय गर्त से निकलना बहुत मुश्किल हो जायेगा व वैश्विक पटल पर हम बहुत पीछे रह जायेंगे और इस परिस्थिती के लिये हम सब स्वंय जिम्मेदार होंगे। आइये इस मुहिम में हम सब एक हो जाये एवं एक दूसरे के साथ अपनी आवाज़ मिलाकर पुरुषों के सम्मान की रक्षा करें क्योंकि ''मर्द को भी दर्द होता है।''


पुरुष परिवार परामर्श केन्द्र


इस क्रम में गाइड समाज कल्याण संस्थान, लखनऊ द्वारा डा. इन्दु सुभाष के नेत्रत्व में गाॅधी प्रतिमा, हजरतगंज, लखनऊ में बीते शनिवार की शाम हजरतगंज में एक कार्यक्रम का आयोजन किया गया जिसमें नेहा रस्तोगी, सुलेखा, सुमन श्रीवास्तव, संजय मिश्रा, विपिन आदि ने भाग लिया। शीघ्र ही गाइड समाज कल्याण संस्थान Centre for Men's Right Protection एवं "पुरुष परिवार परामर्श केन्द्र" की लखनऊ में शुरूवात करने जा रहा है।
"दुष्ट महिला का एक समाधान, कडे़ से कडे़ दण्ड का प्रावधान"