भाजपा के खाने और दिखाने के दांत अलग अलग : डॉ0 मसूद

लखनऊ। राष्ट्रीय लोकदल के प्रदेश अध्यक्ष डाॅ0 मसूद अहमद ने कहा कि केन्द्र की भाजपा सरकार ने चलते चलते अपना वास्तविक चेहरा उजागर कर दिया है। भाजपाईयों की राष्ट्रभक्ति प्रज्ञा सिंह ठाकुर के बयान से स्पष्ट हो गयी है। जो लोग राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के हत्यारे को देषभक्त मानते हैं, वही भाजपा और राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ का असली चेहरा हैं। यह निश्चित है कि इनके खाने और दिखाने के दांत अलग अलग हैं। यही कारण है कि देश की जनता ने वर्ष 2014 में धोखा खाया है। 


भजपा को एक दिन भी देश की सत्ता पर


डाॅ0 अहमद ने कहा कि मालेगांव ब्लास्ट की आरोपी प्रज्ञा सिंह ठाकुर को जिस दिन देश प्रधानमंत्री ने मध्य प्रदेश में भोपाल लोकसभा से प्रत्याशी घोषित किया था उसी दिन नरेन्द्र मोदी जी का असली राष्ट्रभक्त चेहरा देश की जनता के सामने आ गया था। परन्तु भाजपा के विभिन्न स्ट्रार प्रचारकों ने जनता के सामने बडे-बडे सब्जबाग दिखाकर अपना असली चेहरा छिपाये रखा। अब प्रज्ञा सिंह ठाकुर द्वारा यह कहना कि “नाथूराम गोडसे देषभक्त था, है और रहेगा” अपने आप में स्वयं भारतीय जनता पार्टी को बेनकाब करता है। और इसके बाद भजपा को एक दिन भी देश की सत्ता पर काबिज रहने की इजाजत नहीं देता है। लोकसभा चुनाव का सातवां चरण अभी शेष है अतः लोग ऐसे छद्मवेशधारी राष्ट्रभक्तों को पहचानकर ही मतदान करें। 


भाजपा नेताओं की टिप्पणी से पूरा देश आहत


रालोद प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि राष्ट्रपिता महात्मा गांधी जी के प्रति भाजपा नेताओं के द्वारा की गयी अपमानजनक टिप्पणी से पूरा देश आहत है और देश की जनता से अपील है कि महात्मा गांधी के अपमान का बदला अपने अमूल्य वोट नामक हथियार से ले,ताकि भाजपाईयों को सबक मिल सके।